certifired_img

Books and Documents

Hindi Section

How China and the Call to Caliphate Are Re-Writing the Script in Kashmir  कश्मीर में चीन और तहरीके खिलाफत अपना इतिहास फिर से रकम करने के लिए तैयार है: कुछ कारण और तथ्य
Arshad Alam, New Age Islam

बुरहान वाणी के क़त्ल के बाद से कश्मीर में आतंकवाद की एक नई लहर देखने को मिली हैl घाटी में बुरहान की हलाकत के बाद आम तौर पर हर वर्ग से संबंध रखने वाले युवाओं और आम लोगों की भीड़ में वृद्धि हुई हैl आज आतंकवादीयों के जनाज़े में केवल स्थानीय गांव के लोगों ने ही नहीं बल्कि सशस्त्र आतंकवादीयों ने भी शिरकत की हैl उनमें से कुछ आतंकवादी अपने चेहरे पर मास्क (Mask) लगाए हुए इस्लामी राज्य के नारे भी लगा रहे थेl

 

Thanks, but A ‘Love a Muslim Day’ Isn’t Enough To Counter Islamophobia  धन्यवाद, लेकिन ‘लव ए मुस्लिम डे' की योजना इस्लामोफोबिया का मुकाबला करने के लिए पर्याप्त नहीं है
Shaista Aziz

“पनिश ए मुस्लिम डे(Punish a Muslim Day)” की साज़िश पिछले महीने रची गई थी, और उत्तरी इंग्लैंड, मिडलैंड और ईस्ट लंदन में रहने वाले मुसलामानों के घर अज्ञात व्यक्तियों ने कई ख़त भेजे थेl चार मुस्लिम सांसदों को भी यह ख़त भेजे गए, और संसद को भी इसकी एक कापी भेजी गई, जिससे सेक्युरिटी अलर्ट की स्थिति पैदा हो गई थीl इस ख़त में किसी मुसलमान की पिटाई करने पर “इनाम” का भी उल्लेख था जिसका उद्देश्य लोगों को मुसलामानों पर हमला करने, मस्जिदों को आग लगाने और मुसलामानों के चेहरे में एसिड फेंकनें के लिए उकसाना थाl अभी तक यह पता नहीं चाल सका है कि इन सबके पीछे कौन है, हालांकि काउंटर आतंकवाद पुलिस मामले की जांच कर रही हैl

 

वर्तमान में बदकिस्मती से इस्लाम को असहिष्णुता और हिंसा का दाई समझा जाता हैl इस अन्याय पूर्ण और भ्रष्ट आरोप से बड़ा झूट कुछ नहीं हो सकताl अरबी भाषा में शब्द इस्लाम का शाब्दिक अर्थ अमन और तस्लीम हैl केवल इसी एक बिंदु से यह बात स्पष्ट हो जाती है कि इस्लाम एक शांतिपूर्ण जीवनशैली से अधिक किसी भी बात को महत्व नहीं देता है, एक ऐसा जीवन जिसमें इंसान खुदा का वफादार होl

 

System of the Pious Land, Pakistan  पाक सरज़मीन का निज़ाम
Imam Syed Ibn Ali, New Age Islam

मेरे पूर्वज शिया घराने से संबंध रखते थेl जिला अम्बाला में हमारी बहुत बड़ी जायदाद और गद्दी थीl हम अहमदपुर पूर्व जिला बहावलपुर में आकर आबाद हुए तो जिस मोहल्ले में हमारा घर था साथ ही वहाँ मस्जिद थी, मैं अभी बच्चा ही था कि एक दिन मोहल्ले की मस्जिद में गया तो उस दिन मौलवी साहब यह खुतबा दे रहे थे की यह ज़माना इमाम मेहदी का जमाना हैl उस समय कुछ समझ ना आया कि यह क्यों कहा जा रहा हैl लेकिन आज इस बात की समझ आ रही है कि उम्मत इतनी बीमार हैl केवल पाकिस्तान ही नहीं दुसरे इस्लामी देशों का हाल भी देख लेंl

 
The Essence of Prayer इबादत की रूह
Maulana Wahiduddin Khan, Tr. New Age Islam

The Essence of Prayer  इबादत की रूह
Maulana Wahiduddin Khan

अगर कोई खुदा की इबादत को किसी एक इबादत गाह में सीमित कर देता है और वह उसका प्रदर्शन अपने दैनिक जीवन में नहीं करता तो उसकी इबादत कोई इबादत नहीं है इसलिए कि उसका स्रोत खुदा का वास्तविक ज़िक्र नहीं हैl ऐसा क्यों हो सकता है कि कोई खुदा के सामने विनम्र हो और फिर बाहर निकल कर लोगों के सामने घमंड में इतराता फिरे?

 

The Fate of Extremists  अतिवादियों का अंजाम
Mansour Alnogaidan

अल औदा की गिरफ्तारी जिस दिन हुई उस दिन लोगों की एक भीड़ ने इब्ने उसैमन को घेर लिया और अल औदा की हिमायत में खड़े होने के लिए उन पर दबाव डालाl उन्होंने जवाब दिया “तुम लोगों ने अपनी सीमाएं पार कर दी हैंl तुम ने केन्द्रीय सरकारी इमारत को घेर लिए और उसके दरवाज़े को तोड़ दियाl तुमने राज्य के नामूस को चोट पहुंचाया हैl भीड़ में से एक व्यक्ति ने कहा, “तुम एक अपमानित प्रचारक हो”l एक और व्यक्ति ने कहा, “तुम एक कायर इंसान हो”l इस भी का एक सदस्य ए० ज़ेड० भी थाl और यह वही नवयुवक था जो दो वर्ष बाद कत्ल की कोशिश में गिरफ्तार किया जाने वाला थाl

 

The Secret of Happiness  खुशी का रहस्य
Ahmed Al-Arfaj

मानवीय विकास के विशेषज्ञों ने खुशी के बहुत सारे मूल कारक बताए हैंl सबसे पहली बात उन्होंने यह बताई हैं कि सभी भावनाएँ वायरस के तौर पर काम करते हैंl इसका अर्थ यह है कि भावनाएँ संक्रामक हैं चाहे वह सकारात्मक जैसे प्रसन्नता की भावनाएं, चाहे वह नकारात्मक हों जैसे उदासी और मायूसी की भावनाएंl वह फ्लू की तरह एक व्यक्ति से दुसरे में फ़ैल सकते हैंl उदहारण के लिए जनाज़े के मौके पर हर व्यक्ति उदास हो सकता है क्योंकि लोगों को..........

 

Maulana Imdad Rasheedi's Holiest Jihad  मौलाना इम्दादुल्लाह रशीदी का सबसे बेहतरीन जिहाद
S. Arshad, New Age Islam

आज कौम और मुल्क को मौलाना इम्दादुल्लाह रशीदी जैसे इमामों की आवश्यकता है जो निजी हितों और भावनाओं से ऊपर होकर देश व कौम को एकजुट रखने के लिए प्रभावी इक़दामात करें और देश में एकता और भाई चारे की फ़ज़ा को साज़गार बनाने के लिए अपना खून जिगर दें ना कि मुसलामानों को एक दुसरे का खून बहाने की तरगीब देंl

 

Time Muslims Themselves Did Away With Polygamy and Halala  अब मुसलमान स्वयं बहुविवाह और निकाह हलाला का खात्मा करने के लिए तैयार हैं
Arshad Alam, New Age Islam

तीन तलाक को बातिल और प्रतिबंधित करार देने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने अब बहुविवाह और निकाह हलाला जैसे मुस्लिम समाज में प्रचलित प्रथाओं के कानूनी वैधता पर गौर करने की पेटीशन को कुबूल कर लिया हैl यह याद रखना चाहिए कि सुप्रीम कोर्ट ने केवल त्वरित तीन तलाक को ही गैर कानूनी करार दिया है, तलाक देने के एकतरफा अधिकार को नहीं, जैसा कि इस पर अब भी मुसलामानों का अमल जारी हैl

 

आइएसआइएस, अल कायदा और तालिबान जैसे वर्तमान काल के आतंकवादी और अतिवादी कुरआन व हदीस के कुछ शब्दों का गलत प्रयोग कर रहे हैंl यह बात किसी न्याय प्रिय शोधकर्ता से छुपी नहीं कि आतंकवादी संगठन कुरआन करीम की कुछ आयतों और कुछ हदीसों का इस्तेमाल उनके शाने नुज़ूल और एतहासिक संदर्भ से अलग करके कर रहे हैंl जिन आयतों व हदीसों का संबंध जंगी घटनाओं से है उनका इतलाक यह लोग ऐसे माहौल में कर रहे हैं जहाँ मुस्लिम और गैर मुस्लिम पर आधारित लोग अमन व शांति से गुज़र बसर कर रहे हैंl

 

The Many Uses of ISIS in Kashmir  कश्मीर घाटी में आइएस आइएस का उपयोग
Arshad Alam, New Age Islam

टीवी पर इस प्रकार की बात चीत का उद्देश्य कश्मीर के समस्या को हल करना या उस पर बहस करना नहीं बल्कि केवल उन दर्शकों की पूर्वाग्रह और संकीर्ण मानसिकता में वृद्धि करना होता है जो इस प्रकार की ख़बरें देखते हैंl तथापि, टीवी के अंदर यह तमाशा प्रोग्राम के साथ ही ख़तम नहीं होताl बल्कि इसे अतिवादी इस्लाम पर मौजूदा बहस के साथ से जोड़ दिया जाता है ताकि घाटी के लोगों की वास्तविक और स्वभाविक मांगों को भी गैर कानूनी करार दिया जाएl

 

इस दुनिया से रुख्सत होने से पहले एक वसीयत नामा तैयार करना ताकि केवल हमारे रिश्तेदार ही नहीं बल्कि एक नेक उद्देश्य के लिए काम करने वाले लोगों और संगठनों को भी आपकी दौलत से एक मुनासिब हिस्सा मिल सके जिनसे अल्लाह ने आपको नवाज़ा हैl. हमारे उपर अगर किसी का क़र्ज़ है तो उसे अदा कर देनाl.जिस तरह ट्रेन के मुसाफिर अपने मंजिल तक पहुँचने का पुरे जोश व वलवले के साथ इंतज़ार करते हैं जहां कम से कम उसे इंतज़ार करने वाले दोस्तों और रिश्तदारों से मुलाक़ात की उम्मीद होती हैl इसी तरह रब से मिलने की ख़ुशी में पुरे ख़ुशगवार मिजाज़ के साथ अपनी मौत की हकीकत को स्वीकार करने की तैयारी करना!

 

ISIS In Africa -A Threat to African Peace  अफ्रीका में आइएसआइएस का अस्तित्व अफ्रीकी शांति के लिए खतरा है
Basil Hijazi, New Age Islam

ईराक और सीरिया के तेल के भंडार पर कब्ज़ा करके और उसे बलैक मार्केट में बेच करके आइएसआइएस ने इसे अपनी आमदनी का माध्यम बना लिया था, कमज़ोर अफ्रीका में आइएस आइएस यह कोशिश फिर से दोहरा सकती है और अफ्रीका के तेल के भंडार पर कब्ज़ा कर सकती है या उनहें तबाह कर सकती है, उद्देश्य यह है कि अफ्रीका में आइएसआइएस का वजूद अफ्रीकी अमन के लिए शदीद खतरों का कारण बन सकता है और इसके आर्थिक संसाधन पर नकारात्मक प्रभाव दाल सकता हैl

 

It Is the Terrorists Who Are Responsible For Terrorism  आतंकवाद ही आतंकवाद के लिए जिम्मेदार है
Basil Hijazi, New Age Islam

यह दौर आतंकवाद का दौर है, और आतंकवाद अभी तक जारी है, तथापि जो प्रश्न शिद्दत से किया जा रहा है वह यह है कि धर्म, ख़ास तौर पर इस्लाम का इस ख़तरनाक दृश्य के हवाले से क्या विचार है जिसने बड़े पैमाने पर लोगों के जीवन को प्रभावित किया है, आतंकवाद के कारण कौमों के संबंध प्रभावित हुए हैं, दुनिया के कई मोर्चों पर जंगों के पीछे आतंकवाद है, और अगर इस दृश्य की रोक थाम के लिए कोई कदम नहीं उठाया गया तो डर है कि दुनिया में ऐसे कई और मोर्चे खुल सकते हैंl

 

Islamic Heritage in India Is All About Moderation and Inclusivity  भारत की इस्लामी विरासत मध्यम और विनम्र है, लेकिन मुसलमानों को इसे ज़िंदा रखने की जरूरत है
Ghulam Rasool Dehlvi, New Age Islam

भारत में महानतम इस्लामी विरासत का आधार फ़ारसी सभ्यता और संस्कृति, प्राचीन हिन्दी सभ्यता और उसकी विविधतावाद पर हैl उदहारण के लिए मध्य एशिया के साथ भारत के प्राचीन संबंधों के पेट से जन्म लेने वाले तसव्वुफ़ ने “वह्दतुल वजूद” का एक वैश्विक संदेश पेश किया जिसके आईने में “वसुधैव कुटुम्बकम (अर्थात पूरा विश्व एक खानदान है)” की पुरी सुन्दरता के साथ परिलक्षित होती हैl इस प्रकार, भारतीय इस्लामी विरासत मूलतः नबी सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की उस रिवायत की अमली ताबीर है कि : “الخلق عیال اللہ” अर्थात: पुरी मानवता अल्लाह का खानदान हैl यह भारतीय इस्लामी रिवायत में धार्मिक बहुलतावाद का प्रतीक है जिसे अल्लाह की मर्ज़ी का वास्तविक प्रतिबिम्ब कहा जा सकता है, जैसा कि कुरआन में अल्लाह का फरमान है: “और आप का रब चाहता तो पुरे धरती के लोग सारे के सारे ईमान ले आते”

 

Sufi Theologians Too Need To Introspect  सूफी उलेमा को भी आत्मनिरीक्षण, तफ़व्वुक़ परसती और राजनीतिक इस्लाम की कल्पना से अलग होने की आवश्यकता: जेनेवा में सुलतान शाहीन साहब का ख़िताब
Sultan Shahin, Founding Editor, New Age Islam

९/११ दुर्घटना के १७ साल बाद भी इस्लाम के नाम पर आतंकवाद के अंत की कोई संभावना दिखाई नहीं देतीl इराक और सीरिया में तथाकथित आइएस आइएस को हालांकि हार मिली है, लेकिन अफ्रीका और दक्षिण एशिया में यह बढ़ावा पा रहा हैl बहुत सारे तालिबान आतंकवादी अब आइएस आइएस में सम्मिलित हो कर अफगानिस्तान में तबाही मचा रहे हैंl मिस्र की आधुनिक इतिहास में अंजाम दिए जाने वाले एक अत्यंत गंभीर हमले में आइएस आइएस के आतंकवादियों ने नवंबर २०१७ को एक सूफी मस्जिद को निशाना बनाया जिसमें ८०० आबादी वाले नगर के ३०५ व्यक्ति मारे गए और १२८ लोग घायल हुएl इस हमले का शिकार होने वाले लोग मूलतः सूफी मुसलमान थेl सूफी मज़ारों और उनके आगंतुकों को दुनिया भर में इस्लाम पसंद आतंकवादी निशाना बना रहे हैं, और ख़ास तौर पर पाकिस्तान, लीबिया, माली और इरान में हज़ारों लोगों की जानें नष्ट कर रहे हैं और मजारों मस्जिदों और पुस्तकालयों को हानि पहुंचा रहे हैंl

 

Why are Indian Mullahs Condemning a Song and Wink?  भारतीय उलेमा संगीत और भौहों के इशारे की निंदा में लामबंद क्यों हैं?
Arshad Alam, New Age Islam

शायद इससे भी मत्वपूर्ण बात यह है कि मुस्लिम धार्मिक नेतृत्व को यह समझने की आवश्यकता है कि ऐसे फ़ालतू समस्याओं पर बहस करके वह हिन्दुस्तानी इस्लाम को अधिक पेचीदा बना रहे हैंl मुस्लिम समाज को इससे भी अधिक गंभीर समस्याओं का सामना है; जैसे शिक्षा और रोजगार प्राप्त करना, आदिl उनमें से अकसर उलेमा ऐसे मामलों पर कुछ नहीं कहते, शायद इसकी वजह यह है कि उनहें इसके बारे में कुछ पता ही नहीं हैl उनहें यह भी समझना चाहिए कि ऐसे विषयों पर टेलीविज़न के बहस में शरीक होना भी हानिकारक हैl

 

Why Those Interested in the Idea of India Must Read Neyaz Farooquee’s  भारतीय विचारधारा में दिलचस्पी रखने वाले लोगों को नियाज फारूकी की किताब से लाभ उठाना चाहिए
Arshad Alam, New Age Islam

नियाज़ फारुकी की किताब को एक प्रमाण समझा जाना चाहिएl उन दिनों छात्र होने के कारण उनके लेख ऐसे बहुत सारे नवयुवकों के मांगों का प्रतिनिधित्व करती है जो इस प्रकार की भावनात्मक और मानसिक निराशा का शिकार हुए होंगेl पहली दृष्टि में इस पुस्तक का लेआउट और इसका संदर्भ थोड़ा कष्टप्रद प्रतीत होता है लेकिन इसके बाद सभी उलझनें दूर हो जाती हैं और बातें समझ में आने लगती हैं कि: वर्तमान संविधान सदैव अतीत के अनुभव से लैस होता हैl इस पुस्तक में उनकी आँखों से हम यह देखते हैं कि इस घटना का बटला हाउस के मुस्लिम नवयुवकों पर क्या प्रभाव हुआl

 

Religious Extremists Hurt the Very Religion They Claim To Represent  धार्मिक उग्रवादी खुद अपने धर्म को ही नुकसान पहुंचा रहे हैं: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

सुख, शांति, प्रेम और अंतरधार्मिक सद्भाव के बढ़ावे में भारत के महत्व और उपयोगिता पर प्रकाश डालते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि, “भारत की धरती पर बहुत सारे धर्मों का जन्म हुआ और उनहें बढ़ावा मिला हैl शांति और प्रेम का संदेश भारत से अन्य देशों तक फैला हैl चाहे वह महात्मा गांधी हों चाहे गौतम बुद्ध; शांति और प्रेम की खुशबु भारत से विश्व भर में फैली हैl” और उन्होंने कहा कि, “भारत की राजधानी दिल्ली की धरती सूफी बुजुर्गों का ठिकाना रही हैl एक बहुत प्रसिद्ध सूफी निज़ामुद्दीन औलिया का मज़ार यहाँ से केवल कुछ कदम के दूरी पर स्थित हैl दिल्ली गंगा-जमुनी सभ्यता का संगम हैl यहाँ से सूफियों और बुजुर्गों ने मानवता, शांति, प्रेम और एकता का संदेश दिया हैl

 

Respecting All Religions  सभी धर्मों का सम्मान करने की अवधारणा
Maulana Wahiduddin Khan

दुनिया में हज़ारों दुसरे धर्मों और फिरकों के अलावा लगभग दर्जन भर बड़े धर्म भी हैंl इस स्थिती में मतभेद और असहमति का पैदा होना अपरिहार्य है जो कि विवादों का कारण बनते हैंl अब देखना यह है कि हम किस प्रकार उन सभी धर्मों के अनुयाइयों के बीच एकता का एक माहौल पैदा कर सकते हैं, ताकि हम सब अमन और आहंगी के साथ जीवन व्यतीत कर सकें?

 

तो बताइए जो इस्लाम यतीमों के साथ अच्छा सुलूक करने का आदेश देता हो वह भला दूसरों को तकलीफ देने की अनुमति कब दे सकता है? जो धर्म आपसी रिश्तेदारी काटने वाले की सरज़निश करता हो वह कैसे गर्दन काटने की अनुमति दे सकता हैl अल्लाह पाक इरशाद फरमाता, अनुवाद: “और जो अल्लाह के अहद (प्रतिज्ञा) को तोड़ते हैं पक्का होने के बाद और काटते हैं उस चीज को जिसके जोड़ने का खुदा ने हुक्म दिया और ज़मीन में फसाद फैलाते हैं वही नुकसान में हैं”l (परा-1 अलबकरा- 27)

 

Perils of Being a Muslim Male Feminist  मुस्लिम पुरुष के महिला अधिकार का अलमबरदार होने का गंभीर खतरा
Mushtaq Ul Haq Ahmad Sikander, New Age Islam

इस्लामी महिला अधिकार की अलमबरदारी (Feminism) एक ऐसा आंदोलन है जिसका उद्देश्य उनके अधिकारों को बहाल करना और इस्लाम की एक लैंगिक निष्पक्ष व्याख्या पेश करना हैl हम इस्लामी महिला अधिकारों की अलमबरदारी (Feminism) या यौन न्याय की बात को छोड़ते हैं इस लिए कि इस्लाम का उद्देश्य ही यही हैl मैं खुद को इस्लाम में लैंगिक न्याय के आंदोलन के साथ जोड़ता हूँl एक औरत को महिला अधिकार की अलमबरदारी (Feminist) के तौर पर पेश करना आसान हैl नहीं! आप यह क्या कह रहे हैं?

 

यह रूह है जिसकी इंसानी जिस्म में कारफर्माई है और यही हकीकी इंसान हैl अगर नए युग का इंसान अपनी रूह को जानने की कोशिश नहीं करता तो वह आने वाले दौर में भी उदास और परेशान ही रहेगाl उनका दृष्टिकोण है कि सारे कायनात एक ही नुक्ते के अक्ष में है जो कि इंसान का ही एक भाग हैl उसे पाने अंदर गौर करना आवश्यक है और इसका तरीका मुराकबा हैl

 

Fulfil Duties, but Expect No Reward  अपनी जिम्मेदारी निभायें, लेकिन किसी इनाम की उम्मीद न रखें
Maulana Wahiduddin Khan

पूरा कायनाती निज़ाम पूर्ण रूप से पेशनगोई के काबिल है क्योंकि इस दुनिया में घटने वाली सभी घटनाएं अपरिवर्तित नियमों के पाबन्द हैंl इस कायनात में सब कुछ इस स्वास्थ्य और पूर्णता के साथ रवां दवां है कि हर घटना की पेशनगोई की जा सकती हैl इस तरह खुदा इस कायनात में पेशनगोई के लायक किरदार का एक नमूना पेश किया हैl

 

The Preacher’s Pulpit Needs to Be Cleansed from Profanity  मिम्बरे रसूल को लानत बकने से पाक करना होगा
Basil Hijazi, New Age Islam

आज अज़हर और मिस्र की अवकाफ मंत्रालय इस वहाबी इस्लामी बयानिये को रोकने और मिम्बर के खुत्बों के आधुनिकीकरण के लिए प्रयासरत हैं इसलिए तीन चौथाई शताब्दी गुजरने के बाद तकफीरी विचार का फैलाव इतना आम हो गया है कि इसका अंत किसी पारंपरिक तरीके से संभव दिखाई नहीं देता, मिस्र सहित अधिकतर अरब व इस्लामी देशों में लोग गैर मुस्लिमों के लिए की गई बददुआ ना केवल सुनने के आदी हो चुके हैं बल्कि इसके पीछे “आमीन” कहना अब फ़र्ज़ समझने लगे हैंl

 
1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 ... 48 49 50


Get New Age Islam in Your Inbox
E-mail:
Most Popular Articles
Videos

The Reality of Pakistani Propaganda of Ghazwa e Hind and Composite Culture of IndiaPLAY 

Global Terrorism and Islam; M J Akbar provides The Indian PerspectivePLAY 

Shaukat Kashmiri speaks to New Age Islam TV on impact of Sufi IslamPLAY 

Petrodollar Islam, Salafi Islam, Wahhabi Islam in Pakistani SocietyPLAY 

Dr. Muhammad Hanif Khan Shastri Speaks on Unity of God in Islam and HinduismPLAY 

Indian Muslims Oppose Wahhabi Extremism: A NewAgeIslam TV Report- 8PLAY 

NewAgeIslam, Editor Sultan Shahin speaks on the Taliban and radical IslamPLAY 

Reality of Islamic Terrorism or Extremism by Dr. Tahirul QadriPLAY 

Sultan Shahin, Editor, NewAgeIslam speaks at UNHRC: Islam and Religious MinoritiesPLAY 

NEW COMMENTS

  • The writer has mixed two different issues in the article. But... good effort, bachcha.'
    ( By arshad )
  • What Hats Off wants to be considered are in fact items which need to be rejected and denounced.
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • the matter of "idrubihunna", the matter of the evidentiary value of a woman and kuffar being less than that of a momeen....
    ( By hats off! )
  • Bahut khub lajwab. Alhumduliillah
    ( By Arifkhan )
  • The article tries to cover certain important issues related to marriages. No doubt there are certain expectations for a successful....
    ( By Dr. M. A. Haque )
  • "The real reason for the loss of faith in Islam is not the West but Turkey itself: It is a reaction to all the....
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • This is somewhat of a stretch but it is harmless.
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • اسلام علیکم یا شیخ ما طالعت بنسہ کتب الدیوبندیۃ ما قالوا ھکذا قط بل انما قالا
    ( By muhammad khalid )
  • You seem to blame everyone except yourself!
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • i suspect it ois the company. with so many foul mouthed exegetes, lying "moderates....
    ( By hats off! )
  • Yes, dear Ghulam Mohiyuddin saheb, This is the bitter truth. The pathetic plight of ....
    ( By GRD )
  • What makes you do it? I don't know. Is it just bad manners
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Worrisome but does have elements of truth!
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Islam Bharat me na hi aata to shi Tha
    ( By Parveen )
  • Sad to note that Justice Sachar passed away today.
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • The status of women seems to be directly proportional to how civilized a society is.
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Sharia upholders get Legislative Council seats while reformers get nothing
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • The charge-sheet leaves no doubt that she was a target only because she was a Muslim. The Hindu right wing in Jammu has been indulging ...
    ( By dr.A.Anburaj )
  • We can blame all Muslims for they hate the Hindus as Khafirs Kufueer........( so many such words ) etc.What....
    ( By dr.A.Anburaj )
  • After all you are the expert here. Right? So you tell me ...
    ( By hats off! )
  • Hats Off, what makes you write such inane comments?
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • mathematicians think god id a mathematician. ulemas think god is an ulema. garbage pickers think god ....
    ( By hats off! )
  • Great article except there was one bad apple - Hajj Amin al-Husayni who " al-Husayni still collaborated with Nazi Germany and Fascist....
    ( By Zakaria Virk )
  • God is the greatest mathematician" - which God we talking about: Hindu, Muslim, Christian....
    ( By Zakaria Virk )
  • kaash khuda mujhe bhi apne mehboob k nakshe kadam par chla de sari umr bs itni si iltija h aapse'
    ( By sharib )
  • The muslims view Trishul as a weapon...but the hindus see it as a symbol of Lord Shiva. Who is today using the Trishul as a ...
    ( By indiewater )
  • Having said that, one must add that none of these played the causative role in the current marginalisation and brutalisa­tion of the community. For that, ...
    ( By indiewater )
  • The problem is Muslims neither understand hindus or hindu fears, nor hindutva . When they think of " Hindu rashtra" or "hindu right wing" the ...
    ( By indiewater )
  • Very strange logic..so when you can practise hindu phobia why shouldnt the world practise I... tell me....
    ( By indiewater )
  • I am unable to fathom what is the purpose of this ARTICLE. I know the author has been writing similar articles earlier too. But he ...
    ( By Dr. M. A. Haque )
  • Your article drives us to introspect and reflect on how politics has become devoid of any humanity. Truly, women’s bodies have been used as sites ...
    ( By Meera )
  • Political parties exploit communalism because it is an exploitable issue. They will exploit anything that yields them. .
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Excellent article! We cannot blame all Hindus but we can blame Sanghis for whom hating Muslims has become....
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Crimes as heinous as rape have no religion, a lawyer waging a legal....
    ( By Ghulam Rasool Dehlvi )
  • Though we entertain acute differences in numerous theological, doctrinal and jurisprudential matters of faith, we cannot reject outright the mystical...
    ( By GRD )
  • dear mr dehlvi, how long will we fool ourselves while persistently denying to recognize religious bigotry behind religious crimes....
    ( By hats off! )
  • with all respect to mr. mohammad ghithreef, Hippocrates was great and venerable man. i am sure he meant...
    ( By hats off! )
  • Dear hats off, If such a heinous crime can get conflated with religion in order to provoke communalism, then what more can be expected?
    ( By Ghulam Rasool Dehlvi )
  • and they st\ill wonder why pakistan is seen as a pariah state by the west and other countries?
    ( By Vladimir T )
  • You said:The madrasas or Islamic seminaries are not included in the RTE and modernising madrasas take political precedence over establishing quality secular education schools in ...
    ( By Mohammad Ghitreef )