certifired_img

Books and Documents

Hindi Section

इससे इनकार नहीं किया जा सकता कि भारत में मरकज़ी धारे के उलेमा हिंसा पर आधारित कार्यवाहियों और जिहाद व इस्तिश्हाद के नाम पर दिए जाने वाले पाकिस्तान के आतंकवादी हमलों की कड़ी निंदा करते रहे हैंl

 

अच्छे गुमान का अर्थ किसी के बारे में अच्छा ख़याल करना और नेक गुमान रखना हैl विडंबना यह है कि हमारे समाज में अच्छे गुमान का अभाव है, हमारे लोगों में एक दोसरे के संबंध में बदगुमानी बहोत चरम पाई जा रही हैl

२०१५ ई० में ब्रिटेन के मुसलामानों ने एक बहोत महत्वपूर्ण पहल करते हुए लगभग २० मस्जिदों के दरवाज़े गैर मुस्लिमों के लिए खोल दिए थे और visit my mosque#  (मेरी मस्जिद में आइए) के नाम से एक अभियान चलाई थीl ..........

 

कुरआन एक निरपेक्ष वास्तविकता हैl इसने इस्लाम को दोबारा ज़िंदा किया और मुसलमानों को सम्मान के रास्तों पर चलाया, और मुसलमानों की छल के बावजूद उन्हें सामान के रास्ते पर कायम रखाl..........

 

जो इस्लाम के दुश्मन थे जो कुरआन ए पाक के खिलाफ थे और जो मुसलमानों के खून के प्यासे थे वही इस्लाम कुबूल कर रहे हैं, वही कुरआन ए पाक पर ईमान ला रहे हैं और वही मुसलमान बन रहे हैंl अजीबो गरीब वास्तविकता हैl दुनिया आश्चर्यचकित हैl........

 

केंद्र सरकार की ओर से २७ दिसंबर, २०१८ को पार्लियामेंट में एक बैठक की तीन तलाक़ के खिलाफ जो बिल पेश किया गया है कुरआन और हदीस की इत्तेबा करने वाले मुसलमान जो सल्फी और अहले हदीस के नाम से पूरी दुनिया में प्रसिद्ध हैं इसका स्वागत करते हैं, इसलिए कुरआन और हदीस के दलीलों से यही साबित है कि एक बैठक की एक साथ तीन तलाक़ तलाक़ ए बिदअत है, हराम हैl

 

इस्लाम कुबूल करने के सिलसिले में यह बात ख़ास तौर पर उल्लेखनीय है कि उच्च शिक्षा प्राप्त लोग, उच्च खानदानों से जुड़े हुए लोग और प्रसिद्ध व्यक्तित्व मामूली पेशावरों के मुकाबले में इस्लाम के अन्दर अधिक दिलचस्पी ले रहे हैं,........

 

इस्लाम के पैगम्बर मोहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने दीन के ऐसे सिद्धांतों पर मदीना राज्य की बुनियाद रखी जो कुरआन में बयान किये गए थेl चूँकि यह दीन आप सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम के बाद भी बाकी रहना था इसी लिए आप सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम अपने करीबी सहाबा के नेतृत्व में मुसलमानों की एक कम्युनिटी (उम्मत) तैयार कीl

 

कुरआन यह कहता है कि मानवता का प्रारम्भ एक मानवीय भाईचारे व बंधुत्व के रूप में हुआ यहाँ तक कि वह आपस में ही लड़ पड़े (१०:१९)l वहाँ से वह बटे और जात पात, कबीलों और विभिन्न धर्मों में बटते गएl

 

अब यह बात सिद्ध हो चुकी है कि मुस्लिमों का ज़वाल इस्लामी सभ्यता के धार्मिक छवि के साथ संतुलित हैl असल में कौमें अपने सिद्धांतों के आधार पर उरूज व ज़वाल (उतार चढ़ाव) का मुंह देखती हैंl

 

सहाबा हों या ताबईन व तबा ताबईन, सूफिया हों या मशाइख सभी अल्लाह वालों ने सीरत रसूले करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम से हुस्ने अख़लाक़, इखलास व नरमी और नेक किरदार व अमल की खुबसूरत शिक्षाएं प्राप्त की थी यही कारण है कि वह इन शिक्षाओं पर अमल करके भारतीयों के दिलों को जीतने में सफल हुएl

 

मदनी, आज़ाद, मौदूदी और उनके अखलाफ थोड़े मतभेद के साथ एक ही तरह के इस्लामी सिद्धांतों के हामिल हैंl इसमें आश्चर्य की इस लिए कोई बात नहीं है क्योंकि इन सभी को एक ही प्रकार के पारम्परिक मदरसों की शिक्षा प्राप्त हुई हैl

 

जितना संभव हो लोगों के दिलों को आराम पहुँचाओ क्योंकि मुसलमान का दिल वास्तव में खुदा के ज़हूर का मकाम है, कीमत के बाज़ार में कोई सामान इतना मकबूल नहीं होगा जितना दिलों को आराम पहुंचाना मकबूल हैl

 

अल्लामा इकबाल अहमदिया जमात की तफरका बाज़ प्रकृति और साम्राज्यवादी परियोजना के कारण इस पर अपना भरोसा एक दशक पहले ही खो चुके थे, और अलीगढ़ के छात्र इस्लाम के कुरआनी मॉडल के प्रचार प्रसार के लिए काफी “दुनियादार” ज़ाहिर हुएl

 

कुरआन अक्सर अपनी आयतों में (सलात, ज़कात, मलाइका, जन्नत और दीन) जैसे कीवर्ड का प्रयोग एक महत्वपूर्ण संदेश देने के लिए करता हैl अगर इन शब्दों के प्रमाणिक अर्थ स्वतंत्र रूप से तलाश कर लिए जाएं तो हमें कुरआन ए मजीद के असल अर्थ को समझने के लिए हदीसों या शाने नुज़ूल पर निर्भर होने की आवश्यकता नहीं होगीl

 

आज जिस ईसाइयत पर अमल किया जा रहा है यह वह ईसाइयत नहीं है जिसके लिए अल नासरह के हज़रत ईसा अलैहिस्सलाम ने अपनी जान लगा दी थीl

 

प्रारम्भिक मुस्लिम इतिहास पर आधारित आज जिस रूप में इस्लाम हमारे सामने मौजूद है है इसे अल्लामा इकबाल ने ‘अजमी इस्लाम’ और सर सैयद अहमद खान ने ‘इख्तेराई इस्लाम’ और जमालुद्दीन अफगानी ने, ‘जबरी इस्लाम’ कहा हैl

 

इसी तरह, यह कहना कि नमाज के कारण किसी तरह का शोर-शराबा होता है या आसपास रहने वाले लोगों को कोई परेशानी होती है, भी गलत है।

 

हज़रत उमर बिन अब्दुल अज़ीज़ ने हुर बिन अब्दुर्रहमान को स्पेन का गवर्नर नियुक्त किया थाl उन्हीं के शासन काल में मुस्लिम सेनाएं दक्षिण फरसा तक प्रवेश कर चुकी थींl वह अरबी भाषा में महत्वपूर्ण घटनाओं पर आधारित एक पत्रिका लिखा करते थेl

 

प्रारम्भिक मुस्लिम इतिहास की तीसरी रिवायत मूसवी, खादिम जादा, फ़ातमी, कुरात्मी, इमदादी, हमीदुद्दीन, मोंटगमरी और दुसरों की तसनीफ़ात पर आधारित डाक्टर अहमद के रिव्यु (review) से लिया गया हैl

 

मूलतः इस्लाम एक अल्लाह, एक नबी और एक किताब की शिक्षा देता हैl हदीसों ने ना केवल यह कि कुरआन के बारे में संदेह पैदा किये बल्कि कई लोगों को ‘नबूवत’ का दावा करने की भी हौसला अफज़ाई कीl...

 

किसी भी प्रजातांत्रिक समाज के स्वस्थ होने का एक महत्वपूर्ण पैमाना यह है कि उसमें अल्पसंख्यक स्वयं को कितना सुरक्षित महसूस करते हैं।…….

धार्मिक खानों की पुस्तकें देखने के बीच मेरी नज़र अज्ञात लेखक, लेसी हेज़िलटन की एक पुस्तक पर पड़ीl यह किताब लेखक के अपने कट्टरता के साथ वही सामान्य मवाद पर आधारित थी…….

 

वरिष्ठ पत्रकार शीतला सिंह राममंदिर विवाद को हल करने के प्रयासों से लंबे जुड़ाव के लिए भी जाने जाते रहे हैं। हाल ही में आई उनकी पुस्तक ‘अयोध्याः रामजन्मभूमि बाबरी मस्जिद विवाद का सच’ खासी चर्चित हो रही है।

 

इस्लाम एक सादा और प्रेक्टिकल धर्म थाl लेकिन दुर्भाग्यवश यह दीन भी उसी प्रकार की चुनौतियों का शिकार हो कर रह गया है जिनका शिकार अक्सर दोसरे धर्म होते रहे हैंl इस्लाम धर्म के हवाले से इस बेचैनी का बुनियादी कारण यह है कि प्रारम्भिक मुस्लिम इतिहास किस रूप में और किस प्रकार हमारे सामने पेश किया गया हैl

1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 ... 52 53 54


Get New Age Islam in Your Inbox
E-mail:
Most Popular Articles
Videos

The Reality of Pakistani Propaganda of Ghazwa e Hind and Composite Culture of IndiaPLAY 

Global Terrorism and Islam; M J Akbar provides The Indian PerspectivePLAY 

Shaukat Kashmiri speaks to New Age Islam TV on impact of Sufi IslamPLAY 

Petrodollar Islam, Salafi Islam, Wahhabi Islam in Pakistani SocietyPLAY 

Dr. Muhammad Hanif Khan Shastri Speaks on Unity of God in Islam and HinduismPLAY 

Indian Muslims Oppose Wahhabi Extremism: A NewAgeIslam TV Report- 8PLAY 

NewAgeIslam, Editor Sultan Shahin speaks on the Taliban and radical IslamPLAY 

Reality of Islamic Terrorism or Extremism by Dr. Tahirul QadriPLAY 

Sultan Shahin, Editor, NewAgeIslam speaks at UNHRC: Islam and Religious MinoritiesPLAY 

NEW COMMENTS

  • God does not change. Men's concept of God evolves as times change
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Why do I need to post your questions to give my replies when I have already debunked...
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Naseer sb. is still hung up on the meaning of the words "supreme, supremacy and supremacism.. .
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Naseer sb. claims to be imbued with wisdom! The wisdom of an ultra-literalist village mullah
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Naseer sb., the dishonest interlocutor, wants us to forget that he has repeatedly supported verses in which....
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Naseer sb.'s deceptiveness is evident in his last comment. He continues to be a sworn.
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Guha always makes good sense. That's why the Hindutvawadis hate him so much.
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • We must admire and heed Ghannouchi who emphasizes that the democratic....
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Maududi's staunch supporters are so clever enough that they will play other tricks.
    ( By Abdullah )
  • In the age of peace, hate is winning the match No writing is free from hate.
    ( By Rumish )
  • Maududi's idea was to impose Islamic Sharia by force'.
    ( By Farha )
  • How the religion of Allah has evolved over the ages until it was perfected and completed, is covered in my article:....
    ( By Naseer Ahmed )
  • Human beings are not self-sufficient. We live and enjoy our lives at a cost to other beings and our environment. We.....
    ( By Naseer Ahmed )
  • Maududi sb insisted that “Islam wants the whole earth and does not content itself with only a part thereof. It wants and requires the entire ...
    ( By GGS )
  • Maududi insisted that “the objective of the Islamic Jihad is to eliminate the rule of a non-Islamic system and establish ...
    ( By GGS )
  • Mr Zaid Raza, I have written several articles on the subject and also brought to NAI articles of others after editing them.....
    ( By Naseer Ahmed )
  • GM sb refuses to copy my question to him on verse 4:34 and post his response below because that will....
    ( By Naseer Ahmed )
  • I am the only person on this website, who says without ifs and buts and without the ubiquitous disclaimer "Allah ....
    ( By Naseer Ahmed )
  • What I have said is a logical truism which is beyond the understanding of the windbag GM sb. If the....
    ( By Naseer Ahmed )
  • The hypocritical liar that GM sb is, he blames me for the discussion on war which he himself initiated! It is ....
    ( By Naseer Ahmed )
  • Action of Some Indian, & Every Pakistani Muslim and even Iran supreme leadear calling for jihad every now and than ....
    ( By Aayina )
  • GM sb, Your lies have been nailed. You are for: 1. Decriminalizing adultery in Islam and....
    ( By Naseer Ahmed )
  • Naseer sb. describes himself as being imbued with understanding, and others.
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Naseer sb. thinks that Muslims got confused about concepts such as kuffar and mushrikin...
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Naseer sb. thinks that by repeating the same discredited arguments again and again and by calling me...
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Naseer sb. is now trying to lay on me all the sins of American imperialism! I wonder what he...
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Naseer sb. continues to think in terms of victory and defeat. His sole aim is to look victorious...
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Maududi argued that jihad should not denote "a crazed faith ... blood-shot eyes...
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • As civilizations advance from the primitive to maturer phases, the concept of God too moves....
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • We must focus on and propagate God's universal and eternal message. The rest should.. .
    ( By Ghulam Mohiyuddin )
  • Bloody insanity has intoxicated these ruffians so much that they are unable to see their hearts are completely sealed. Thank you New Age Islam for ...
    ( By Huzaifa )
  • Excellent work – tables a compelling refutation of JeM’s fatwa on the strength of the Qur’an – and also cites relevant ahadith to support ...
    ( By mohammed yunus )
  • Na kitabon se Na Waahzon se Na zar se paida deen hota hai buzurgon ki nazar se paida
    ( By learner )
  • Let this article be weak. Can you write more powerful article in refutation of JeM?...
    ( By Zaid Raza )
  • The article is weak because it has several serious errors such as: 1. It says:“fighting even in self-defence was forbidden in Makkah ....
    ( By Naseer Ahmed )
  • the whole day they sit in their sermons of radicalisaiton and then the people like you come out to ask that how to deradicalise.
    ( By Zaid )
  • @Learner, Watanparasti means worship of country and watanmuhabbat means love to the country....
    ( By Ghulam Ghaus Siddiqi غلام غوث الصديقي )
  • The terrorists are no doubt, among the worst of the Kafirs and Pakistan has become a kafir state.....
    ( By Naseer Ahmed )
  • Why does Islam forbid Watanparasti and Ittehad?'
    ( By learner )
  • This article is weak because it challenges Maududi's inspirations.
    ( By Zaid )